करवा चौथ [२०१६]

  1. love mi .karva choutha
  2. neha shrma .karva choutha
  1. love mi .karva choutha
  2. neha shrma .karva choutha
love mi .karva choutha

love mi .karva choutha
kavyapravah.com

neha shrma .karva choutha

neha shrma . karva choutha
kavyapravah.com

 

करवा चौथ
जीवन पथ पर
बन के संगिनी
कुकुम भरे पांओ से
चल कर घर में तुम आई
पहला मिलन हुआ समर्पण
एक दूजे को अपने अहम का
बनी स्वामिनी इस हृदय की
प्यार समर्पण सेवा भाव से
बनी दुलारी सारे घर की
पद से ज्यादा मन का बड़प्पन
सब पर लुटाया अपना पन
कितने व्रत उपवास रखे तुमने
ताकि सुरक्षित रहे सब अपने
अक्षय तृतीय एकादशी पूर्णिमा
सोमवार शुक्रवार शिव रात्रि
जन्माष्टमी और करवा चौथ
सहज सरल भक्ति भाव से पूर्ण
सिर्फ अपनों की मंगल कामना से
धन्य है भारतीय नारी
पत्नियाँ हमारी
सिर्फ देना अपनों को
निश्वार्थ
माँगना कुछ नहीं
अपने लिए
ना अपनों से
ना उस परमेश्वर से
सत सत नमन

जन कवि .गोपाल जी सोलंकी

One Comment

  1. जीवन पथ पर
    बन के संगिनी
    कुकुम भरे पांओ से
    चल कर घर में तुम आई
    पहला मिलन हुआ समर्पण
    एक दूजे को अपने अहम का
    बनी स्वामिनी इस हृदय की
    प्यार समर्पण सेवा भाव से
    बनी दुलारी सारे घर की
    karva choutha
    jan kavi gopal ji solanki