गर्मी से राहत आया आषाढ़

  1. rani lakshmi bai .tap se rahat aaya shashadh
  2. s.p. mukhrji . tap se rahat aaya aashadh
  1. rani lakshmi bai .tap se rahat aaya shashadh
  2. s.p. mukhrji . tap se rahat aaya aashadh
rani lakshmi bai .tap se rahat aaya shashadh

rani lakshmi bai . tap se rahat aaya aashadh
kavyapravah.com

s.p. mukhrji . tap se rahat aaya aashadh

s.p. mukhrji . tap se rahat aaya aashadh
kavyapravah.com

 

गर्मी से राहत आया आषाढ़
गर्मी ताप से, राहत देने, आया है आषाढ़
छाने लगे है, काले बादल, लाया ये आषाढ़
गर्मी ताप से
धरती माता ,झुलस रही थी,झुलस रहे झाड़
पशु पक्षी ,मानव ताल , नदिया और पहाड़
गर्मी ताप से
अब गर्मी से, मिलगी राहत,आया है आषाढ़
आंधी तूफ़ान ,तेज हवाएं , उड़ रहा कबाड़
गर्मी ताप से
लो तड़ तड़ बूंदों ने,धरा पर,बरसाया है लाड़
लगे भीगने, वर्षा से ,धरती ,पेड़ पौधे पहाड़
गर्मी ताप से
कबीर जयंती,लक्ष्मी बाई ,दुर्गावती की दहाड़
योग दिवस,श्यामा प्रसाद मुखर्जी, की लताड़
गर्मी ताप से
जगन्नाथ की,रथ यात्रा दे, बढ़ चला आषाढ़
उम्मीद से, ज्यादा बरस , अब चला आषाढ़
गर्मी ताप से

जन कवि . गोपाल जी सोलंकी

One Comment

  1. tap se rahat aaya aash
    लो तड़ तड़ बूंदों ने,धरा पर,बरसाया है लाड़adh
    लगे भीगने, वर्षा से ,धरती ,पेड़ पौधे पहाड़
    गर्मी ताप से
    कबीर जयंती,लक्ष्मी बाई ,दुर्गावती की दहाड़
    योग दिवस,श्यामा प्रसाद मुखर्जी, की लताड़
    गर्मी ताप से
    जगन्नाथ की,रथ यात्रा दे, बढ़ चला आषाढ़
    उम्मीद से, ज्यादा बरस , अब चला आषाढ़
    गर्मी ताप से
    tap se rahat aaya aashadh
    jan kavi .gopal ji solanki