बस्ते लेकर चल पड़े नन्हे नन्हे पांव

  1. education -ii .baste lekar ke chal pade nanhe nanhe panv
  2. padhne chale .baste lekar ke chal pade nanhe nanhe panv
  1. education -ii .baste lekar ke chal pade nanhe nanhe panv
  2. padhne chale .baste lekar ke chal pade nanhe nanhe panv
education -ii .baste lekar ke chal pade nanhe nanhe panv

education-ii .baste lekar ke chal pade nanhe nanhe panv
kavyapravah.com

padhne chale .baste lekar ke chal pade nanhe nanhe panv

padhne chale .baste lekar ke chal pade nanhe nanhe panv
kavyapravah.com

 

बस्ते लेकर चल पड़े नन्हे नन्हे पांव

शिक्षा सब को चाहिए ,शहर हो या गाँव
बस्ते लेकर चल पड़े , नन्हे नन्हे पाँव
शिक्षा सब
गाँव शहर से जोड़ती,लकड़ी की ये नावं
पढ़ने शहर में आ रहे , नन्हे नन्हे पाँव
शिक्षा सब
बचपन से वे अनाथ है,रहने को नहीं ठाँव
काँधे पर थैला फिरे , नन्हे नन्हे पाँव
शिक्षा सब
भूख गरीबी औ नशा ,ना सर पर है छाँव
बढ़ने लगे अपराध पर , नन्हे नन्हे पाँव
शिक्षा सब
पढ़ने का अवसर मिले ,रहने की हो ठांव
छू लेंगे आकाश भी , ये नन्हे नन्हे पाँव
शिक्षा सब
आओ एक संकल्प लें .खेलें हम एक दांव
सपने पूरे कर सके , ये नन्हे नन्हे पाँव
शिक्षा सब
एक एन जिओ बना , दें उनके हम ठांव
गोपाल जी भटके नहीं , नन्हे नन्हे पाँव
शिक्षा सब

जन कवि .गोपाल जी सोलंकी

One Comment

  1. बस्ते लेकर चल पड़े नन्हे नन्हे पांव

    शिक्षा सब को चाहिए ,शहर हो या गाँव
    बस्ते लेकर चल पड़े , नन्हे नन्हे पाँव
    शिक्षा सब
    गाँव शहर से जोड़ती,लकड़ी की ये नावं
    पढ़ने शहर में आ रहे , नन्हे नन्हे पाँव
    शिक्षा सब
    बचपन से वे अनाथ है,रहने को नहीं ठाँव
    काँधे पर थैला फिरे , नन्हे नन्हे पाँव
    baste lekar ke chal pade nanhe nanhe panv
    jan kavi gopal ji solanki