main gulab hun

  1. rose . main gulab hun
  2. rose 1 . main gulab hun
  1. rose . main gulab hun
  2. rose 1 . main gulab hun
rose . main gulab hun

rose . main gulab hun
kavyapravah.com

rose 1 . main gulab hun

rose 1 . main gulab hun
kavyapravah.com

 

मैं गुलाब हूं ✍
मैं गुलाब हूं 🌹
तोड़ दो सुखा दो
पत्ती पत्ती बिखरा दो
हर हाल मे महकूंगा
मैं गुलाब हूं 🌹
पत्ती पत्ती तोड़ कर
बरनी मे डाल दो
मिश्री मिला दो गल
कर खुशबू दार गुलकंद
बन जाउंगा
स्वाद और स्वास्थ्य दूंगा
मैं गुलाब हूं 🌹
मिठाई के उपर सजा दो
ठंडाई मे मिला दो
पत्ता पत्ता उपयोगी
खुशबू दार है आखरी
दम तक उपयोगी हूं
मैंँ गुलाब हूं 🌹
मैं गुलाब हूं 🌹

जन कवि ।गोपाल जी सोलंकी

One Comment

  1. मैं गुलाब हूं ✍
    मैं गुलाब हूं 🌹
    तोड़ दो सुखा दो
    पत्ती पत्ती बिखरा दो
    हर हाल मे महकूंगा
    मैं गुलाब हूं 🌹
    पत्ती पत्ती तोड़ कर
    बरनी मे डाल दो
    मिश्री मिला दो गल
    कर खुशबू दार गुलकंद
    बन जाउंगा
    स्वाद और स्वास्थ्य दूंगा
    मैं गुलाब हूं 🌹
    jan kavi .gopal ji solanki